Posted on 01 Sep, 2020 01:00 pm

Likes - 2 196


पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से सम्मान प्राप्त करना मेरे लिए गर्व की बात रही: हीरो राजन कुमार

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया के आइकॉन राजन कुमार ने गहरा दुख जताया है। चार्ली चैप्लिन द्वितीय के नाम से दुनिया भर में विख्यात राजन कुमार ने कहा है कि भारत के 13वें राष्ट्रपति एवं भारत रत्न से सम्मानित माननीय प्रणब मुखर्जी जी के निधन पर मैं विनम्र श्रद्धांजलि प्रस्तुत करता हूं। केंद्रीय रक्षा मंत्री, वित्त मंत्री और विदेश मंत्री रहते हुए उन्होंने कई उल्लेखनीय कार्यों को किया। देश और समाज के प्रति आपके योगदानों को कभी भुलाया नहीं जा सकता। राष्ट्र ने एक महान लीडर, थिंकर, स्कॉलर और एक बेहतरीन इंसान को खो दिया है। उन्होंने अपना पूरा जीवन राष्ट्र की सेवा के लिए समर्पित कर दिया था। उनकी फैमली और रिश्तेदारों के प्रति मेरी हार्दिक सहानुभूति।"

नमस्ते बिहार सहित कई हिंदी फिल्मों के हीरो राजन कुमार को यह गर्व हासिल रहा है कि राष्ट्रपति भवन में उन्होंने राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से सम्मान प्राप्त किया था और उनके निधन से बेहद दुखी राजन कुमार उन लम्हों को याद करते हुए बेहद भावुक होकर कहते हैं "उनसे मुलाकात का 2014 का मेरा अद्भुत अनुभव रहा है। मै उन्हें दिल से याद करता हूं। उनके दिल में एक कलाकार के लिए बेहद प्यार था, उन्होंने मुझे जब सम्मानित किया तो मेरे पांव जैसे ज़मीन पर नहीं थे। एक राष्ट्रपति होकर भी उन्होंने हम जैसे फनकारों के हाथ जोड़े, उनके दिल में जो कलाकारों के प्रति जज़्बा था, जो कद्र थी वह लाजवाब थी। मैं उनका हमेशा शुक्रगुजार रहूंगा कि उन्होंने मुझे राष्ट्रपति भवन में मेरे काम के लिए सम्मानित किया। लगातार तीन साल तक मुझे उनके सामने अपनी कला का प्रदर्शन करने का अवसर मिला। २०१४, २०१५ और २०१६ में उनके समक्ष मैं राजपथ पर आर्टिस्ट्स के लीडर के रूप में भारत के तिरंगे को लेकर फहराता रहा, मुझे लगातार तीन वर्षो तक उनका सानिध्य प्राप्त हुआ। वह इतने बड़े पद पर थे मगर वह इंसान भी बहुत अच्छे थे। उनके निधन पर अपार दुख है मगर अच्छे लोग मरा नहीं करते हैं, वे हम जैसे लोगों को खड़ा कर देते हैं।"

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करवा चुके राजन कुमार ने कहा कि प्रणब मुखर्जी के स्वर्गवास के बारे में सुनकर दिल को बेहद तकलीफ पहुंची है। उनकी मौत दरअसल एक दौर का खात्मा है। प्रणब मुखर्जी के परिवार और रिश्तेदारों के प्रति मैं गहन शोक-संवेदना ज़ाहिर करता हूँ। अपने 40 सालों से भी ज्यादा के राजनीतिक जीवन में उन्होंने कई काबिल ए तारीफ़ कार्य किए हैं।  उन्होंने विदेश से लेकर रक्षा, वित्त और वाणिज्य मंत्री तक की भूमिका बखूबी निभाई थी।

उललेखनीय है कि प्रणब मुखर्जी ने भारत के 13वें राष्ट्रपति के रूप में  2012 से 2017 तक अपनी सेवाएं दी थीं। पूर्व राष्ट्रपति को भारत रत्न से भी नवाजा जा चुका है।  गौरतलब है कि 2016 में गणतंत्र दिवस की परेड में राजन कुमार ने यंग गांधी की भूमिका निभाई थी, जिसकी हर ओर से प्रशंसा हुई थी। राजन कुमार और उनके ग्रुप का फ्युजन डांस नई दिल्ली के उस भव्य आयोजन का एक बड़ा आकर्षण था। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने राजन कुमार और उनके ग्रुप की परफॉर्मेंस को नोटिस किया। यहां "बिहार की झांकी" में उन्होंने यंग गांधी की भूमिका को बेहद उम्दा अंदाज़ मे पेश किया था।

हीरो राजन कुमार राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात और उनके साथ ली गई तस्वीरों को अपने जीवन का एक बड़ा हासिल मानते हैं।

By Gaazi Moin