Posted on 02 Sep, 2019 11:20 am

Likes - 0 26


एक्ट्रेस शांतिप्रिया ने की मनोज यादव की किताब लांच

मुंबई में पिछले दिनों मनोज यादव ने अपनी नई किताब "101 सेक्रेट्स ऑफ प्रॉजेक्ट रिस्क मैनेजमेंट" बॉलीवुड अभिनेत्री और विशेष अतिथि शांतिप्रिया एवं मुख्य अतिथि राम यादव (सीईओ एडलवाइस कैपिटल) की मौजूदगी में लांच की. मुंबई के बांद्रा में स्थित टाइटल वेव्स में इस बुक लांच का इवेंट रखा गया जहाँ लेखक और मेहमानों के साथ मीडिया की भी भारी मौजूदगी देखी गई. इस प्रोग्राम के अन्य मेहमान थे सुहैल माथुर- द बुक बेकर्स में भारत के सबसे अधिक मांग वाले व्यक्ति; रेणु कौल वर्मा, - एमडी, वितस्ता पब्लिकेशन प्राइवेट लिमिटेड, राजेश एंगल, हेड प्रोजेक्ट पोर्टफोलियो मैनेजमेंट, टाटा कंसल्टिंग इंजीनियर्स लिमिटेड. 595 रूपए की यह किताब अमेज़न, फ्लिपकार्ट, क्रॉसवर्ड, टाइटल वेव्स, किताब खाना और अन्य प्रमुख बुक स्टोर्स पर उपलब्ध है. लेखक और मोटिवेशनल स्पीकर मनोज यादव का मानना है कि "हालांकि हम में से अधिकांश लोग सक्षम होते हैं, लेकिन सही मार्गदर्शन जीवन में सफलता के लिए आवश्यक है।''

मनोज यादव ने अपनी पहली पुस्तक "101 सेक्रेट्स ऑफ प्रॉजेक्ट रिस्क मैनेजमेंट" को वितस्ता पब्लिशिंग प्राइवेट लिमिटेड द्वारा लॉन्च किया है। मनोज यादव प्रोजेक्ट के संचालन के पहलुओं, परिचालन जोखिम और गुणवत्ता प्रबंधन में प्रभावी निर्णय लेने के लिए अपनी प्रथम किताब "101 सेक्रेट्स ऑफ प्रॉजेक्ट रिस्क मैनेजमेंट"को 3-इन -1 पुस्तक बताते हैं। यह प्रोजेक्ट मैनेजमेंट पर एक व्यापक पुस्तक है जिसे पहले दिन से लागू किया जा सकता है। पुस्तक 101 वर्गों के जोखिमों को प्रस्तुत करती है साथ ही व्यवसाय की सफलता के लिए 500 से ज्यादा रणनीतियों को भी बताती है. यह किताब कुछ कठिन सवालों के जवाब देती है जैसे कि व्यवधानों से कैसे बचे? कैसे एक महान टीम हायर की जाए? ग्राहक की अपेक्षाओं पर कैसे उतरें? प्रतियोगियों को कैसे पार करें? ग्राहकों और कई अन्य लोगों के लिए विश्व स्तरीय समाधान कैसे प्रदान करें। पुस्तक बेहद सरल अंग्रेजी भाषा में लिखी गई है और पेशेवरों, उद्यमियों और प्रबंधन छात्रों के लिए उपयोगी है।

पुस्तक "101 सेक्रेट्स ऑफ प्रॉजेक्ट रिस्क मैनेजमेंट" में पहली बार मनोज यादव प्रोजेक्ट्स और रणनीतियों को प्रभावित करने वाले लगभग 98% जोखिमों का गहराई से वर्णन कर रहे हैं। पुस्तक "101 सेक्रेट्स ऑफ प्रॉजेक्ट रिस्क मैनेजमेंट" एक ऐसी पुस्तक है, जो अस्थिरता, अनिश्चितता, जटिलता, अस्पष्टता भरी दुनिया में जीवित रहने के लिए परियोजना प्रबंधन के इर्द-गिर्द घूमती है। ''मैंने विभिन्न बहुराष्ट्रीय कंपनियों के लिए काम किया और बड़े अंतर को देखा क्योंकि पेशेवरों को इसे प्रबंधित करना मुश्किल हो रहा था। इसका कारण यह है कि मैंने परियोजना प्रबंधन, परिचालन जोखिम और गुणवत्ता प्रबंधन पर एक व्यावहारिक पुस्तक लिखने का निर्णय लिया, जिससे लोगों के पास तैयार समाधान होंगे।'' मनोज यादव कहते हैं.

मनोज यादव कॉर्पोरेट मैनेजमेंट और लीडरशिप में 14 साल का अनुभव रखते हैं. वह लोगों को प्रेरित करना पसंद करते हैं और उन्होंने सफलता पर 100 से अधिक प्रेरक कोट्स लिखे हैं। एक बहु-प्रतिभाशाली व्यक्तित्व रखने वाले मनोज गायन और कैरम, टेबल टेनिस, शतरंज आदि जैसी विभिन्न गतिविधियों में बहुत दिलचस्पी रखते हैं.