Posted on 14 Mar, 2019 04:30 pm

Likes - 0 7

इंटरव्यू: डायरेक्टर गुर्जर अरुण नागर, दर्शकों की कल्पनाओं से परे है फिल्म 'रिस्कनामा'

अपनी पहली ही फिल्म 'गुर्जर आंदोलन' की वजह से बॉलीवुड में चर्चा में आने वाले डायरेक्टर गुर्जर अरुण नागर अब अपनी नेक्स्ट फिल्म 'रिस्क्नामा' लेकर रहे हैं, जो 15 मार्च को रिलीज होने जा रही है। कीर्ति मोशन पिक्चर्स और सीएसके प्रोडक्शन के बैनर तले निर्मित बॉलीवुड फिल्म 'रिस्कनामा' में अभिनेता सचिन गुर्जर बतौर एक्टर बॉलीवुड में अपनी शुरुआत करने जा रहे हैं. यह उनकी पहली फिल्म है मगर वह दो रूप में दिखाई देंगे शेर सिंह और वीर सिंह के रोल मेंइनके साथ साथ ही अहम भूमिका में अभिनेता प्रमोद माउथो, शाहबाज खान, गरिमा अग्रवाल, अनुपमा प्रकाश, ख्याति शर्मा, जावेद हैदर, रवि वर्मा नजर आएंगे। 

गाजियाबाद के रहने वाले अरुण नागर ग्रेजुएशन के बाद २००३ में नोएडा से मुंबई - हजार रुपए लेकर आए थे. उन्होंने सोचा था किसी तरह फ़िल्मी दुनिया में इंट्री कर जाएं. इसलिए सीरियल्स में असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम किया. वर्षों के लम्बे संघर्ष के बाद उन्हें टीवी धारावाहिकों में अभिनय का मौका भी मिलना शुरू हो गया। उन्होंने विभिन्न चैनल्स पर प्रसारित होने वाले दर्जन भर धारावाहिकों में अभिनय किया है। उन्होंने कई सीरियल्स में बतौर सहायक निर्देशक काम किया है। हाल में उन्होंने

फिल्म 'भूरी' में बतौर एक्टर और असिस्टेंट डायरेक्टर काम किया था. कई वर्षों की उनकी मेहनत तब सफल हुई जब बतौर निर्देशक उनकी पहली फिल्म 'गुर्जर आंदोलन: फाइट फॉर राइट' रिलीज़ हुई। फिल्म में सुरेंद्र पाल, हिमानी शिवपुरी, मुश्ताक खान, एहसान खान और अली खान जैसे कलाकारों ने अहम भूमिकाएं निभाई थीं। राजस्थान सरकार ने फिल्म गुर्जर आन्दोलन बैन कर दी थी. अरुण नागर ने बताया कि फिल्म राजस्थान के गुर्जर आंदोलन की पृष्ठभूमि पर आधारित थी। इसमें गुर्जर आंदोलन से जुड़े कई ऐसे अनछुए पहलुओं को दिखाया गया था जिसने समाज को झकझोर कर रख दिया था। बचपन से उन्हें अभिनय और निर्देशन के क्षेत्र में गहरी दिलचस्पी थी। इसके लिए उन्होंने बहुत मेहनत की और नतीजा सबके सामने है।

निर्देशक अरुण नागर का कहना है कि इस फ़िल्म की कहानी अंत तक बांधे रखती है। यह फ़िल्म किसी जाति विशेष या किसी समुदाय विशेष पर आधारित होकर ग्रामीण पृष्ठभूमि पर आधारित कहानी है जो महिला सशक्तिकरण, सदियों से चली रही कुरीतियों और नशा के दुष्प्रभाव को दर्शाती है। दरअसल यह सिर्फ एक फ़िल्म नही है बल्कि इसमें जीवन का सार पेश किया गया है। हम सब की लाइफ में रिस्क होता है यह भी एक रिस्क की कहानी है.

फिल्म की कहानी कुछ यूँ है कि शेर सिंह अपने इलाके का दबंग सरपंच है जो खाप पंचायतों जैसा एक फरमान जारी कर देता है कि जो इस इलाके मे प्यार करेगा उसको केवल मौत मिलेगी। और इस तरह सरपंच शेर सिंह जाने कितने प्यार करने वाले लड़के-लड़कियों को मौत के घाट उतार देता है। वक्त ऐसी करवट बदलता है कि जो इंसान प्यार का दुश्मन था उसे ही प्यार हो जाता है.उसे छोटे भाई की पत्नी से प्यार हो जाता है. और यह प्यार क्या गुल खिलाता है, इससे कहानी में क्या टर्न और ट्विस्ट आता है इसको जानने के लिए आपको 'रिस्कनामा' देखनी पड़ेगी, जो एक बहुत ही उम्दा फ़िल्म है   फ़िल्म की अधिकतर शूटिंग पूर्वी राजस्थान मे जिला करौली के गाँव दांतका बदनपुरा मे की गई है। जबकि कुछ हिस्से दिल्ली, मुंबई और लोनावला में भी शूट किये गए हैं. फिल्म की शूटिंग ७० दिनों में कम्प्लीट की गई है

फिल्म में गाने हैं. एक आइटम सोंग रानी हजारिका ने गाया है जबकि फिल्म का सबसे खूबसरत गाना 'इश्क फकीरा' अल्तमश फरीदी की आवाज़ में है. फिल्म का एक सेड सोंग मोहम्मद इरफ़ान ने गाया है.

कीर्ति मोशन पिक्चर्स और सीएसके प्रोडक्शन के बैनर तले निर्मित बॉलीवुड फिल्म 'रिस्कनामा' आगामी 15 मार्च को देशभर के सिनेमाघरों मे रिलीज होगी।

फिल्म के को प्रोड्यूसर प्रियंका गुर्जर, कीर्ति गुर्जर, महावीर फौजी, रवि शर्मा हैं जबकि इसके असोसिएट निर्माता हैं संदीप खरी, शिवांग खरी, इन्द्राणी त्यागी, सुशिल त्यागी, प्रवीण नागर, प्रवीण बंसाला, धीरज कुमार. फिल्म के एडिटर गुर्जर अरुण नागर, डीओपी के एम सुजीत, संगीतकार दुष्यंत और आशीष डोनाल्ड हैं. फिल्म के कोरिओग्रफ़र राका, एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूसर सूबे सिंह चंदीला, आर्ट डायरेक्टर प्रीत वंशिका, एक्शन डायरेक्टर मुकेश राठोड़, गीतकार संजीत निर्मल, मेकअप मैन राजेश-प्रवीण बब्बर, प्रोडक्शन डिज़ाइनर राहुल गुर्जर, सुरजीत गुर्जर, लाइन प्रोड्यूसर्स सत्या के सिंह-निशांत शर्मा, पोस्ट प्रोडक्शन एम वी स्टूडियो और पीआर एजेंसी वन अप रिलेशंस है. डायरेक्टर की एक फिल्म अंडर प्रोडक्शन है जबकि उनकी नेक्स्ट फिल्म एक रोमांटिक कॉमेडी है.