Posted on 06 Dec, 2019 07:00 pm

Likes - 0 187


निर्देशक निर्माता राम सजन मौर्या की फिल्म

बॉलीवुड में अब रियलिस्टिक सिनेमा बनने लगा है जिसे सराहना भी मिलती है। पिछले दिनों मुंबई में एक ऐसी ही सत्य घटनाओं से प्रेरित फिल्म का मुहूर्त हुआ जिसका नाम है "किसान की बेटी". किसानों की आत्महत्या पर बेस्ड स्टोरी है यह फिल्म, जिसमें बेटियों के दर्द को भी बयां किया गया है। फिल्म के स्टोरी रायटर और डायरेक्टर राम सजन मौर्या हैं जबकि मोनिका जे. विश्वकर्मा और राम सजन मौर्या ने इसे प्रोड्युस किया है। द ग्रेट अशोका फिल्म प्रोडकशन, जयंतीका फ़िल्म प्रोडकशन और नीलकमल फिल्म एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनाई जा रही फिल्म के संगीतकार राज इंद्र राज हैं जबकि इसके सह निर्माता हैं धनंजय कुशवाहा (सिंगर), चंद्रमोहन चौधरी और करम हुसैन शाह।

फिल्म की पटकथा और संवाद लेखक युसुफ शेख और राम सजन मौर्या हैं जबकि गीतकार भी युसुफ शेख और राम सजन मौर्या हैं। इस फिल्म के कोरियोग्राफर हिमांशु, विवेक थापा और राजू राय हैं। फिल्म में सतेंद्र सिंह की मुख्य भूमिका हैं जबकि आदि ईरानी, ज्योति कलश, जावेद हैदर, आतिश सिंह सहित कई कलाकार भी अहम किरदार में दिखाई देंगे। इस अवसर पर विनायक पाटिल, रविकांत मौर्या, जनार्दन विश्कर्मा, दीपक मेवानी, मनोज सिंह, रवि जैन, गौतम शाह, संदीप कर्डे, जय प्रकाश मौर्या, बी एन सिंह, प्रवीण महाजन और अविनाश पंडित जैसे कई स्पेशल गेस्ट्स भी मौजूद थे।

फिल्म के लेखक, निर्देशक और निर्माता राम सजन मौर्या ने इस अवसर पर कहा कि हम चाहते हैं कि फिल्म किसान की बेटी हिट हो। दुर्भाग्य की बात है कि छोटी बच्चियों के साथ इन दिनों दुष्कर्म हो रहे हैं, हमारी सभ्यता और संस्कृति में महिलाओं की पूजा करना होता है लेकिन आज जैसे हालात हैं, फिल्म उसी कड़वे सच को प्रदर्शित करती है। दूसरी ओर इसमें किसानों की दुर्दशा भी दिखाई गई है,  किसान हम सब के लिए मेहनत करते हैं, हमारे लिए अनाज उगाते हैं मगर खुद उन्हें खाने पीने की सुविधा नहीं मिल पाती है। आज किसानों की हालत दयनीय है। किसान हमे खाना खिलाते हैं मगर वह गरीबी और कर्ज की वजह से खुदकुशी कर रहे हैं।

इस मौके पर निर्देशक और निर्माता राम सजन मौर्या ने एक गीत गाकर सुनाया, जिसके शब्द कुछ यूं हैं " सबसे बड़े लुटेरे तो यह खादी वर्दी वाले हैं।" इस फिल्म के हीरो सतेंद्र सिंह हैं। उन्होंने कहा कि मैं निर्देशक और निर्माता राम सजन मौर्या जी का बेहद शुक्रिया अदा करना चाहूंगा कि उन्होंने मुझे दूसरी बार अपनी फिल्म में हीरो के रूप में लिया है। इस फिल्म का सब्जेक्ट शानदार है और एक बेहतरीन मैसेज देती है यह फिल्म। है नारी तुझसे जहां।" फिल्म के संगीतकार राज इंद्र राज ने कहा कि फिल्म में 6 सिचुएशनल सोंग्स हैं, एक कव्वाली भी है। फिल्म के गाने कहानी को आगे बढ़ाते हैं। इस फिल्म में एक्ट्रेस पेंटाली सेन आइटम नंबर कर रही हैं। उन्होंने कहा कि फिल्म में एक प्रभावी सोशल मैसेज है। इसे आप आईं ओपनर फिल्म कह सकते हैं।