Posted on 17 Sep, 2018 11:00 pm

Likes - 0 66


बॉक्सर माइक टायसन भारत में मिक्स मार्शल आर्ट लीग K1Lकरेंगे लॉन्च

दुनिया के जाने-माने बॉक्सर माइक टायसन जल्द मुम्बई में भारत के पहले ग्लोबल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स - कुमाइट 1 लीग (K1L) को लॉन्च करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. ये फाइट 29 सितम्बर को मुम्बई के वर्ली स्थित एनएसआई डोम में होगी. इसे ऒल इंडिया मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फ़ेडरेशन (एआईएमएमएएफ़) का समर्थन हासिल है और इस लीग के ज़रिये दुनिया के आठ देश साथ आयेंगे. इसके पहले सीजन में अलग अलग देशों की आठ टीमें हिस्सा लेंगी और ख़िताब हासिल करने की मशक्कत करेंगी. हर टीम में 9 खिलाड़ियों का समावेश होगा, जिनमें से 2 लड़कियां होंगी. खिलाड़ियों को नीलामियों के ज़रिये चुना जायेगा और इससे जुड़ा आयोजन भारत, दुबई, लंदन और लास वेग में किया जायेगा. भारत, पाकिस्तान, मिडिल ईस्ट, यूके, रूस, अमेरिका, चीन और फिलिपीन्स ने पहले ही अपनी भागदारी के लिए हामी भर दी है. K1L ने भारतीय एमएमए सर्किट के लिए शीर्ष लड़ाकों को ढूंढ निकाला, जिसमें कंथा अगासा, सुमित खाड़े, हरदीप राय, मोहम्मद फरहाद आदि शामिल हैं. भारत की शीर्ष महिला फाइटर प्रियंका जीत तोशी भी इस खिताब को हासिल करने के लिए एड़ी-चोटी का ज़ोर लगाती नज़र आयेंगी.

संगीतकार और गायक बप्पी लाहिरी ने माइक टायसन का भारत में स्वागत करने के लिए हाल ही में एक जिंगल कम्पोज़ किया है. जाने-माने संगीतकार बप्पी दा ने इस मौके पर कहा कि बॉक्सिंग के इस दिग्गज का स्वागत करने का इससे अच्छा और कोई तरीका नहीं हो सकता था. बप्पी दा  इस खास मौके पर अमेरिका से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये भारत में माइक टायसन से गुफ़्तगू भी करेंगे. 

 इस लीग का आइडिया टोयम इंडस्ट्री लिमिटेड के सीएमडी मोहम्मद अली बुधवानी को आया, जो एक कामयाब बिजनेसमैन होने के साथ साथ एमएमए के बहुत बड़े फैन भी हैं. उन्होंने कहा, "कुमाइट 1 लीग के ज़रिये दुनिया भर के मार्शल आर्ट्स के विभिन्न प्रकारों को साथ लाना और इसे वैश्विक स्तर पर प्रमोट करने की हमारी मंशा है. हमारा मकसद है कि हम बड़े पैमाने पर लोगों को एमएमए से जोड़ें और युवाओं में शिष्टाचार, एकाग्रता, सहनशीलता और मन से मजबूत बनने का संदेश पहुंचाएं. मेरी टीम पिछले कई सालों से भारत में इस खेल पर अपना ध्यान केंद्रित किये हुए है और इसकी प्लानिंग से लेकर इससे संबंधित रिसर्च में भी जुटी हुई है. हमने पाया कि एमएमए के लिए खिलाड़ियों की भारी कमी है. ये एक ऐसा खेल है, जिसकी भारत में काफ़ी अच्छी संभावनाएं हैं. भारत की खेल परंपरा से सब वाकिफ़ हैं. हम इसे दुनिया का सबसे बड़ा एमएमए इवेंट बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. दुनिया के लिए भारत जल्द एमएमए का सबसे पसंदीदा डेस्टिनेशन साबित होगा.

उन्होंने कहा, "माइक टायसन के जुड़ जाने से इस लीग को एक नइ ऊंचाई हासिल हूई है. हमने माइक टायसन को भारत आने और लीग को फ्लैग ऑफ़ करने के लिए राज़ी कर लिया. इसमें कोई शक नहीं है कि इस लीग का भविष्य बेहद उज्ज्वल है और इससे जॉब के अवसर भी बढ़ेंगे. हमारा ये आइडिया माइक टायसन को काफ़ी पसंद आया और उन्होंने फ़ौरन अपनी हामी भर दी. हमारे लिए माइक को होस्ट करना बेहद गौरव की बात है. अब ये वक्त उन्हें ये साबित करके दिखाने का है कि भारत में टैलेंट की कोई कमी नहीं है और अगर हमें मौका मिले तो हमें आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता हैं."

देशभर में संभावित एमएमए फाइटर्स को खोज निकालने के लिए K1L जल्द जमीनी स्तर पर टैलेंट हंट कार्यक्रम का आयोजन करेगा. इसके तहत देश के अलग अलग हिस्सों से ताल्लुक रखनेवाली प्रतिभाओं की पहचा‌न कर उन्हें बढ़ावा दिया जायेगा और एक्सपर्ट ट्रेनर्स द्वारा ट्रेनिंग दी जायेगी ताकि वो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फाइट में हिस्सा ले सकें. एआईएमएमएएफ़ के सहयोग से एमएमए देशभर से टैलेंट को खोज निकालने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा. इसके पहले सीजन में टैलेंट हंट की शुरुआत जल्द  मुम्बई, दिल्ली, कोलकाता और बेंगलुरू से की जायेगी.